साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के सामने झुकी सरकार, पुलिस सुरक्षा के बीच आज सिंहस्थ में करेंगी स्नान

18 मई

भोपाल। मालेगांव ब्लास्ट मामले में NIA से क्लीन चिट मिलने के बाद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर बुधवार को सिंहस्थ कुंभ में स्नान के लिए उज्जैन जाएंगी। साध्वी प्रज्ञा ने कुंभ में की अनुमति न मिलने पर जेल में ही अनशन शुरू कर दिया था। आखिरकार उनकी जिद के आगे सरकार को झुकना पड़ा। साध्वी प्रज्ञा को कोर्ट ने सिंहस्थ कुंभ में जाने की इजाजत दी है। हालांकि जेल प्रशासन ने पर्याप्त सुरक्षा बल न होने का हवाला दिया था।

उज्जैन में गुरु से भी करेंगी मुलाकात

बताया जा रहा है कि साध्वी प्रज्ञा को कड़े सुरक्षा इंतजाम के बीच उज्जैन ले जा रहा है। उनके साथ एडवांस लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस और एक डॉक्टर को भी उज्जैन भेजा जा रहा है। वहां स्नान एवं पूजा के बाद वह अपने गुरु से भी मुलाकात करेंगी। शाम तक उन्हें भोपाल वापस लाया जाएगा।

जेल में शुरू किया था अनशन

साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पत्र लिखकर चेतावनी दी थी कि अगर उन्हें 21 मई तक सिंहस्थ में स्नान करने की अनुमति नहीं दी गई तो जेल में आमरण अनशन शुरू कर देंगी। साध्वी ने सोमवार सुबह से जेल में ही भूख हड़ताल शुरू कर दी थी।

महाराष्ट्र ATS ने बनाया था मुख्य आरोपी

2008 में महाराष्ट्र के मालेगांव में हुए धमाकों में महाराष्ट्र ATS ने साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को मुख्य आरोपी बनाया था। हालांकि बाद में इसकी जांच NIA को सौंप दी गई। NIA ने इस मामले में साध्वी के खिलाफ कोई सबूत न होने की बात कहते हुए क्लीन चिट दे दी। NIA की क्लीन चिट के बाद मुंबई के स्पेशल NIA कोर्ट ने साध्वी को आरोप मुक्त कर दिया।

Total votes: 138