पाकिस्तान सीमा पार से भेज रहा नकली नोट,कहीं आप न हो जाएं साजिश का शिकार,ऐसे करें बचाव

06  अक्टूबर

भोपाल । भारत पाकिस्तान में बढ़ते तनाव के बीच भी बांग्लादेश और नेपाल बॉर्डर के जरिए देश में नकली नोटों की सप्लाई लगातार की जा रही है। भोपाल क्राइम ब्रांच ने हाल ही में इस मामले में रिपोर्ट इंटरपोल को सौंपी है जिसके बाद दोनों देशों की सीमा पर अलर्ट जारी कर दिया गया है।

दरअसल, जून 2016 में क्राइम ब्रांच ने नकली नोट के सरगना रिजवान खान को गिरफ्तार कर नकली नोट चलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए 15 लाख रुपए के नकली नोट जब्त किए थे। पूछताछ में आरोपियों ने खुलासा किया कि ये नकली नोट पाकिस्तान में छापे जाते हैं, जिन्हें वहां से नेपाल और बंगलादेश के रास्ते से भारत में सप्लाई किया जाता है। वहीं नकली नोटों की सीमा पार से हो रही सप्लाई को लेकर पुलिस के साथ आरबीआई भी काफी चिंतित है।

 

ऐसे करें आप असली और नकली नोट की पहचान

1. वॉटर मार्क: सभी असली नोटों की लेफ्ट साइड पर महात्मा गांधी का हल्का शेडेड वॉटर मार्क होता है। जब आप नोट को तिरछा करेंगे तो इस वाटर मार्क में अलग-अलग दिशाओं में जाने वाली लाइनें दिखाई देंगी। इसके साथ ही अंकों में नोट का मूल्य भी लिखा होता है।

2. सिक्योरिटी थ्रेड: सिक्योरिटी थ्रेड असली नोटों को पहचानने का बहुत ही भरोसेमंद तरीका है। यह थ्रेड महात्मा गांधी की फोटो के लेफ्ट साइड में होता है, जिस पर भारत और आरबीआई लिखा होता है। ध्यान रहे कि 5 से 50 रुपए के नोटों के तार पर केवल भारत छपा होता है।

3. पहचान चिन्ह: 20 रुपए और इससे ज्यादा मूल्य के नोटों पर फ्लोरल प्रिंट के ठीक नीचे एक पहचान चिन्ह बना होता है। यह खास तरह का निशान होता है जो सभी नोटों में अलग आकार का होता है और वाटर मार्क के बाईं ओर दिखाई देता है। 20 रुपए में यह वर्टिकल रेक्टेंगल, 50 रुपए में चकोर, 100 रुपए में ट्राइएंगल, 500 रुपए में गोल और 1000 रुपए में डायमंड शेप में होता है।

4. उभरा हुआ प्रिंट: 20 रुपए और उससे अधिक मूल्य के नोटों पर फ्लोरल प्रिंट, अशोक स्तंभ, पहचान चिन्ह, रिजर्व बैंक की गारंटी, मूल्य अदा करने का वचन, रिजर्व बैंक के गवर्नर के हस्ताक्षर, महात्म गांधी की तस्वीर और रिजर्व बैंक की सील उभरे प्रिंट में बने होते हैं।

5. ऑप्टिकल वैरिएबल इंक : 500 रुपए और 1000 रुपए के नोटों पर मूल्य रंग बदलने वाली इंक (ऑप्टिकल वैरिएबल इंक) से लिखा होता है. जब हम नोट को सीधा पकड़ते हैं तो हरा और इसे थोड़ा तिरछा करने पर यह हमें नीले रंग का दिखाई देता है।

 

 
मध्य प्रदेश से सम्बंधित अन्य ख़बरें पढ़ें

Total votes: 224