पत्नी के डांडिया खेलने से नाराज दामाद ने की ससुर की हत्या

06  अक्टूबर

ग्वालियर । पत्नी डांडिया खेलने क्या चली गई, शराबी पति नाराज हो गया। तुरंत मां के दरबार में चल रहे डांडिया में जाकर जमकर उत्पात मचाया और फिर पत्नी को मारने लगा। उसे बचाने आए ससुराल वालों पर ही दामाद ने चाकू से जानलेवा हमला कर दिया। इससे चाचा ससुर की मौत हो गई।

जानकारी के अनुसार पड़ाव के गुजराती मोहल्ले में माता का दरबार लगा हुआ है। इस मोहल्ले को लोग रात के समय पूजा करके डांडिया और गरबा करते हैं।इसी मोहल्ले में विक्की उर्फ भोला अपनी ससुराल में ही पत्नी जानकी के साथ घर जंवाई बनकर रहता था।पिछले कुछ महीनों से विक्की बेरोजगार था और इसी मुद्दे पर पत्नी जानकी से उसकी लड़ाई होती रहती थी। कई बार विक्की ने जानकी के साथ मारपीट भी कर दी।रात को विक्की ने जमकर शराब पी और अपनी ससुराल पहुंचा। घर में पत्नी जानकी नहीं मिली तो वह आपा खो बैठा। मालूम हुआ कि जानकी डांडिया में गई है।

गुस्से में विक्की ने चाकू उठाया और सीधे माता के उस दरबार में जा पहुंचा, जहां लोग डांडिया खेल रहे थे।विक्की ने वहीं पंडाल में पहले तो म्यूजिक बंद किया और फिर जानकी को पीटने लगा। जानकी को बचाने के लिए उसके पिता कैलाश, भाई अमर और चाचा जगदीश आ गए। विक्की जानकी को छोड़कर इन तीनों से लड़ने लगा और इसी बीच उसने धारदार चाकू निकालकर तीनो पर वार कर दिया।

इस हमले में विक्की के ससुर कैलाश और अमर घायल हो गए। इसी चाकू का एक वार चचिया ससुर जगदीश के सीने पर पड़ा। इससे उनकी मौत हो गई।इसके बाद विक्की वहां से भागने लगा, लेकिन लोगों ने पुलिस को फोन कर दिया। पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची और विक्की को गिरफ्तार कर लिया।अपने चाचा की मौत से दुखी जानकी बोली, विक्की के सिर पर खून सवार था। यदि चाचा और पिता सामने नहीं आते तो वह मुझे मार डालता।

पत्नी जानकी के मुताबिक विक्की शराब पीने का आदी था और घर आकर प्रतिदिन मारपीट करता था।

 

 
ग्वालियर से सम्बंधित अन्य ख़बरें पढ़ें

Total votes: 245