जबलपुर में शातिर हसीना ने पकड़ाया वांटेड क्रिमिनल को

04  अक्टूबर

शहडोल। मध्यप्रदेश के विंध्य क्षेत्र में आतंक का पर्याय बन चुके एमपी पुलिस के मोस्ट वांटेड क्रिमिनल को उसकी माशूका ने ऐसा धोखा दिया कि वह सलाखों के पीछे पहुंच गया। शहडोल ज़ोन की पुलिस की रातों की नींद उड़ाने वाले आरोपी नरेंद्र शुक्ला को उसकी ही माशूका धोखा दे जायेगी यह खुद मोस्ट वांटेड क्रिमनल ने भी नहीं सोचा था।

शहडोल जिले की बुढ़ार पुलिस ने नरेंद्र शुक्ला को माशूका की मदद से लोकेशन ट्रेस कर कुख्यात अपराधी महेश यादव के साथ छत्तीसगढ़ के वेंकटनगर से गिरफ्तार कर लिया है।आधा दर्जन से ज्यादा हत्या के मामले में आरोपी रहने वाले नरेंद्र शुक्ला को हवालात तक पहुचाने में पुलिस की सबसे बड़ी मददगार उसकी प्रेमिका ही बनी। पुलिस कॉल डिटेल रिकार्ड के माध्यम से पहले छत्तीसगढ़ में रहने वाली प्रेमिका के पास पहुंची। इसके बाद उसे अपनी गिरफ्त में लेकर वे नरेंद्र शुक्ला तक पहुँच गये। बुढ़ार पुलिस के अनुसार कुख्यात आरोपी नरेंद्र शुक्ला लगातार अपनी प्रेमिका के संपर्क में रहा। इस बात की पुष्टि सीडीआर में हो चुकी थी। पुलिस ने प्रेमिका के नंबर को ट्रेस किया और उसे पूछताछ कर अन्य दूसरे नम्बर खंगाले जिसके बाद नरेंद्र की अंतिम लोकेशन छत्तीसगढ़ के वेंकटनगर में मिली थी।

बुढ़ार पुलिस की सुचना के बाद अमलाई पुलिस वेंकटनगर पहुंची।वहां अपने एक मित्र के यहां वह रात गुजार रहा था। पुलिस ने घेरा बंदी करके जैसे ही उसके दो साथियों को पकड़ा उसके बाद नरेंद्र शुक्ला ने पुलिस पर ही फायरिंग की तैयारी कर ली थी। लेकिन, जवाबी कार्रवाई के पहले ही पुलिस ने उस धर दबोचा।हत्या, हत्या का प्रयास, लूट, अपहरण, बमकांड, फिरौती वसूलने जैसे अपराधों में नरेंद्र शुक्ला शामिल रहा है।

मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में लगभग 3 दर्जन मामलों में नरेंद्र शुक्ला मुख्य सरगना है। हाल ही में कलेक्टर शहडोल ने उसे जिला बदर किया वहीं एसपी शहडोल ने बुढ़ार बमकांड मामले में गिरफ्तारी के लिए 10 हजार का इनाम घोषित किया था।

 

 
जबलपुर से सम्बंधित अन्य ख़बरें पढ़ें

Total votes: 271